बैंक ऑफ इंडिया मुद्रा ऋण (Bank Of India Mudra Loan): सम्पूर्ण जानकारी

बैंक ऑफ इंडिया(Bank Of India)मुद्रा ऋण (Mudra Loan ) योजना भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक वित्तीय योजना है जो उद्यमियों और छोटे व्यापारियों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए विकसित की गई है। इस योजना के तहत बैंक ऑफ इंडिया (BOI) भी मुद्रा ऋण (MUDRA LOAN ) प्रदान करता है। मुद्रा ऋण योजना का मुख्य लक्ष्य माध्यमिक, छोटे और माइक्रो उद्यमों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करके रोजगार के अवसरों को बढ़ावा देना है।

बैंक ऑफ इंडिया (BOI) मुद्रा ऋण(MUDRA LOAN ) के विशेषताएं:

  • मुद्रा ऋण(MUDRA LOAN ) के तहत BOI द्वारा प्रदान की जाने वाली ऋण सीमा 10 लाख रुपये है।
  • यह ऋण कार्यकारी मंडलों (Branches) द्वारा आवंटित किया जाता है।
  • मुद्रा ऋण की ब्याज दर रियायती होती है और आमतौर पर बाजार की कीमतों से कम होती है।

बैंक ऑफ इंडिया (BOI) मुद्रा ऋण(MUDRA LOAN) के लिए पात्रता:

  • भारतीय नागरिक होना।
  • आयु 18 से 65 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • मुद्रा ऋण का लाभ उठाने वाले उद्यमी को आर्थिक गतिविधियों में अनुभव होना चाहिए, और ऋण का उपयोग उद्यम की वृद्धि और विकास के लिए किया जाना चाहिए।

बैंक ऑफ इंडिया (BOI) मुद्रा ऋण (MUDRA LOAN ) की प्रक्रिया:

  1. पहले चरण में, उद्यमी को BOI शाखा में जाना होगा और मुद्रा ऋण(MUDRA LOAN ) योजना के तहत आवेदन करना होगा।
  2. आवेदन प्रक्रिया में उद्यमी को आवश्यक दस्तावेजों को संग्रहित करना होगा, जैसे कि व्यापार योजना, आय-व्यय विवरण, पहचान प्रमाण-पत्र, वाणिज्यिक पत्र, आदि।
  3. उद्यमी को अपनी व्यापारिक प्रवृत्तियों, आय-व्यय विवरण, आदि पर आधारित मुद्रा ऋण के लिए प्रश्नों का उत्तर देना होगा।
  4. आवेदन पत्र सहीपत्र के रूप में समीक्षा होगा और उद्यमी की पात्रता की जांच की जाएगी।
  5. उद्यमी की पात्रता पुष्टि करने के बाद, BOI उद्यमी को मुद्रा ऋण की योजना के अंतर्गत ऋण की राशि की अनुमति देगा।
  6. अनुमोदन के बाद, उद्यमी को बैंक द्वारा प्रदान की जाने वाली मुद्रा ऋण की राशि मिलेगी और उद्यमी को लोन के लिए आवश्यक दस्तावेजों को जमा करना होगा।
  7. उद्यमी को मुद्रा ऋण की ब्याज दर, आयात और निर्यात की जगह, वस्त्रागार की जगह आदि के लिए ऋण की अवधि के बारे में जानकारी मिलेगी।
  8. लोन अनुदान के लिए मुद्रा ऋण योजना के तहत कार्यालय से मंजूरी प्राप्त होने के बाद, उद्यमी को लोन राशि का लाभ मिलेगा।
  9. उद्यमी को मुद्रा ऋण का भुगतान नियमित अंतरालों पर बैंक को करना होगा, जिसमें मुद्रा ऋण की ब्याज दर, मुद्रा ऋण की अवधि और आय-व्यय विवरण शामिल होगा।

बैंक ऑफ इंडिया (BOI) मुद्रा ऋण(MUDRA LOAN ) के लाभ:

  • मुद्रा ऋण योजना के तहत उद्यमियों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है, जो उन्हें नए व्यवसाय की शुरुआत करने और मौजूदा व्यवसाय का विस्तार करने में मदद करती है।
  • मुद्रा ऋण (MUDRA LOAN ) की ब्याज दर काफी कम होती है, जिससे उद्यमियों को कम ब्याज के साथ वित्तीय सहायता मिलती है।
  • बैंक ऑफ इंडिया (BOI) छोटे व्यापारियों और माइक्रो उद्यमों को अपने उद्यमिता को बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण और मार्गदर्शन की सुविधा भी प्रदान करता है।

निम्नलिखित तालिका में बैंक ऑफ इंडिया (BOI) मुद्रा ऋण की विवरणिका दी गई है:

ऋण का प्रकारलोन राशि की सीमाब्याज दरवित्तीय विनिमय अवधि
शिशुउप लाख10.75% से 12.75%3 साल
किशोर5 लाख10.75% से 12.75%3 साल
तरुण10 लाख10.75% से 12.75%3 साल
बैंक ऑफ़ इंडिया से मुद्रा ऋण (MUDRA LOAN) के लिए आवश्यक दस्तावेजों की सूची निम्नलिखित हो सकती है:

बैंक ऑफ इंडिया (BOI) मुद्रा ऋण योजना व्यापारियों को आर्थिक सहायता प्रदान करने का एक उत्कृष्ट माध्यम है। यह ऋण ब्याज दर कम होती है और उद्यमियों को वित्तीय अवसरों में मदद करने के साथ-साथ प्रशिक्षण और मार्गदर्शन भी प्रदान करता है। उद्यमी अपनी व्यापारिक प्रवृत्तियों और आर्थिक योजना के आधार पर मुद्रा ऋण के लिए आवेदन कर सकते हैं।

  1. आवेदन पत्र: बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा प्रदान किए गए ऋण आवेदन पत्र को योग्यतापूर्वक भरें और हस्ताक्षर करें।
  2. पहचान प्रमाण: निम्नलिखित पहचान दस्तावेजों में से कोई भी आवश्यक हो सकता है:
    • आधार कार्ड
    • पासपोर्ट
    • मतदाता पहचान पत्र
    • पैन कार्ड
    • ड्राइविंग लाइसेंस
  3. पता प्रमाण: निम्नलिखित पता प्रमाण दस्तावेजों में से कोई भी आवश्यक हो सकता है:
    • आधार कार्ड
    • पासपोर्ट
    • मतदाता पहचान पत्र
    • यूटिलिटी बिल (बिजली बिल, पानी बिल, आदि)
    • बैंक खाता का विवरण
  4. SC/ST/OBC/माइनॉरिटी जाति के प्रमाण पत्र (यदि लागू हो): यदि आप किसी आरक्षित श्रेणी में आते हैं, तो आपको जाति प्रमाण पत्र या माइनॉरिटी समुदाय प्रमाण पत्र जैसे सहायक दस्तावेज प्रदान करने की आवश्यकता हो सकती है।
  5. व्यापार योजना: व्यापार योजना में आपके व्यापार विचार, प्रस्तावित गतिविधियाँ, अपेक्षित आय, खर्च और चुकता करने की योजना शामिल होनी चाहिए।
  6. कोटेशन/अनुमान: ऋण राशि से खरीदने की योजना वाली मशीनरी, उपकरण या किसी अन्य संपत्ति के कोटेशन या अनुमान।
  7. बैंक विवरण: पिछले 6-12 महीनों के बैंक विवरण, आपकी वित्तीय लेनदेन और बैंकिंग इतिहास का मूल्यांकन करने के लिए आवश्यक हो सकते हैं।
  8. व्यापार स्वामित्व के प्रमाण पत्र: व्यापार के स्वामित्व की स्थापना करने वाले दस्तावेज जैसे पंजीकरण प्रमाणपत्र, साझाकरण परिचयपत्र या संघ का संविधान आपको प्रदान करने की आवश्यकता हो सकती है।
  9. आयकर रिटर्न (ITR): पिछले 2-3 वर्षों के ITR स्टेटमेंट, इनकम की गणना, वित्तीय सारणी और लाभ और हानि की विवरण (यदि लागू हो)।
  10. अन्य संबंधित दस्तावेज: मुद्रा ऋण (MUDRA LOAN ) के लिए आवश्यकतानुसार आपके व्यापार या ऋण आवश्यकताओं के अनुसार अतिरिक्त दस्तावेज जैसे बैंक ऑफ़ इंडिया के नियमहेतु अतिरिक्त आवश्यक हो सकते हैं।

कृपया ध्यान दें कि विशेष दस्तावेज आवश्यकताएं ऋण राशि, व्यापार के प्रकार और बैंक ऑफ़ इंडिया की नीतियों पर निर्भर कर सकती हैं। मुद्रा ऋण (MUDRA LOAN ) के लिए निकटतम बैंक ऑफ़ इंडिया की शाखा पर जाएं या उनकी ग्राहक सेवा से संपर्क करें ताकि मुद्रा ऋण (MUDRA LOAN )ऋण के दस्तावेज़ की आवश्यकताओं के बारे में जानकारी चाहिए, तो आपको बैंक ऑफ इंडिया के आधिकारिक वेबसाइट https://bankofindia.co.in/search?q=mudra%20loan पर जाएं।।

About Dayaram Dangal

Avatar of Dayaram Dangal

Check Also

mPokket

mPokket: Instant Cash Loans for Students and Young Professionals in India

mPokket is a popular Indian fintech company offering instant personal loans through their mobile app. …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *